विद्युत रीडिंग कम होने के बावजुद बिल की राशि चार गुना तक वसूली, विधायक ने विधानसभा उठाया मामला

0
13

जहाजपुर (आज़ाद नेब) राजस्थान विधानसभा में राज्य में बिजली की स्थिति पर विचार/परिचर्चा में विधायक गोपीचंद मीणा ने जहाजपुर-कोटड़ी विधानसभा क्षेत्र विधुत संबंधी जन समस्या को लेकर सदन में कहा कि मेरे क्षेत्र में गरीबो एवं कृषको के साथ अन्याय हो रहा है पुराने बिल जमा होने के बावजूद विधुत विभाग द्वारा कृषको एवं गरीब उपभोक्तओ 60 हजार से 80 हजार तक बिजली के बिल भेजे कर शोषण किया जा रहा हैं।

सदन में विधायक मीणा ने कृषको एवं गरीब उपभोक्तओ के साथ हो रहे अन्याय के खिलाफ आवाज़ उठाते हुए कहा कि विद्युत रीडिंग कम होने के बावजुद बिल की राशि चार गुना तक वसूली कर उपभोक्ताओं का शोषण विधुत विभाग द्वारा किया जा रहा है जिसको बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। ओर कहा कि जब उपभोक्ता बिल शुद्धिकरण के लिए जाते हैं तो विद्युत विभाग के कार्मिकों/अधिकारियों द्वारा टालमटोल का रवैया अपनाते हुए कोई जवाब नही दिया जाता है। ऐसे कार्मिको/अधिकारियों के विरुद्ध कार्रवाई सुनिश्चित की जानी चाहिए।

विधायक मीणा ने सरकार से आग्रह किया कि मेरे विधानसभा क्षेत्र में उपखण्ड मुख्यालय जहाजपुर एवं उपखण्ड मुख्यालय कोटडी के उपभोक्ताओं को विद्युत संबंधी समस्याओं के निस्तारण हेतु जिला मुख्यालय भीलवाड़ा अथवा शाहपुरा जाना पड़ता है जिसमे उपभोक्ताओं का समय और पैसा दोनों अतिरिक्त खर्च होता है जनहित में दोनों उपखण्ड मुख्यालयों पर xen ऑफिस खोला जाए। पेंडिंग पड़े कृषि कनेक्शनो को तत्काल प्रभाव से कृषको को कृषि कनेक्शन दिए जाए। क्षेत्र में बिजली के झूलते तारों से आए दिन हादसा होता रहता है जिसकी परिणित जनहानि व मृत मवेशियो के रूप होती है क्षेत्र को अंडरग्राउंड विधुत लाइन बिछाते हुए हादसो से मुक्त करें अगर इस हेतु राशि की अतिरिक्त आवश्यकता हो तो मैं विधायक कोष से 10 प्रतिशत राशि देने की घोषणा करता हूँ।